PRT full form kya hota hai? PRT टीचर कैसे बने?

भारत या विश्व के सभी देशों मे शिक्षा के क्षेत्र में नए अवसरों ने ना केवल छात्रों के लिए ज्ञान के दरवाजे खोले हैं बल्कि Teacher को भी कई तरह के अवसर मुहैया कराए हैं। इनमे टीचिंग बेहद गरिमामय प्रोफेशन है और टीचरों का स्‍थान आदि काल से सबसे ऊंचा रहा है। इसी वजसे अब कई विद्यार्थी शिक्षक बनने की इच्छा रखते है।

ऐसा ही शिक्षा विभाग मे शब्द है PRT । लेकिन दोस्तों क्या आपको पता है की PRT full form क्या होता है? PRT का अर्थ क्या होता है? PRT teacher कैसे बने ? हम आपको यह सभी कहने वाले है। तो आप इस पोस्ट को अंत तक पढे ताकि आपके सारे doubt हल हो जाए।

PRT full form

PRT का full form “Primary Teacher” होता है। प्राइमेरी टीचर को हिन्दी भाषा मे प्राथमिक शिक्षक कहते है। Primary Teacher भारत के तकरीबन सभी राज्यों मे कक्षा 1 से 5 तक पढ़ते है।

लेकिन दोस्तों क्या आपको यह पता है की प्राइमरी शिक्षक कैसे बना जा सकता है?, एक प्राइमरी शिक्षक की सैलरी क्या होती है? एक प्राइमरी शिक्षक बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

तो मित्रों चलिए एक के बाद एक अभी टर्म समजते है….

प्राइमरी शिक्षक कैसे बनें?

प्राइमरी नाम से ही स्पष्ट है एक प्राइमरी मास्टर यानी प्राथमिक शिक्षक का संबंध शुरुआत की कक्षा से है। PRT कक्षा 1 से 5 तक के बच्चों SCHOOL मे पढ़ाने का कार्य करता है।

primary teacher kaise bane
primary teacher kaise bane

भारत का एक कानून RTE (right to education) अधिनियम के तहत कक्षा 1 से 5 तक के स्कूलों के लिए शिक्षक नियुक्त किए जाते हैं। प्राइमरी मास्टर की तैनाती इसी के तहत होती है। राज्य और केंद्र सरकार अपने अपने प्राइमरी विद्यालयों में आवश्यकता के अनुसार शिक्षकों की भरती करती हैं। इसके लिए समय समय पर अधिसूचना भी जारी की जाती है।

यदि आप प्राइमरी शिक्षक बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको हाईस्कूल से ही तैयारी शुरू कर देनी चाहिए। आपका शैक्षिक रिकार्ड बेहतर होना चाहिए। इसका फायदा आगे मेरिट लिस्ट बनाए जाते समय मिलता है। अभ्यर्थी को इंटरमीडिएट और स्नातक में भी अच्छे अंकों से उत्तीर्ण होना चाहिए।

सरकार हर 1 या 2 दो साल मे PRT शिक्षक बनने की vacancy निकालती रहती है, इसके लिए आप सरकार की official site चेक करते रहे।

प्राथमिक अध्यापक बनने के लिए कौनसी योग्यता जरूरी है?

प्राइमरी शिक्षक के लिए क्या शैक्षिक और अन्य योग्यता चाहिए इसके मुद्दे नीचे मुजब है:

qualification
  • अच्छे अंकों के साथ स्नातक(graduation) होना जरूरी है (50% से ज्यादा)
  • डीएलएड (diploma in elementary education) / बीटीसी (basic training certificate)
  • TET/CTET जैसी स्पर्धात्मक परीक्षा उत्तीर्ण करना
  • राज्य के नियम मुजब अन्य परीक्षा उत्तीर्ण करना

BTC / d.el.ed का syllabus क्या होता है?

BTC / d.el.ed चार सेमेस्टर का कोर्स होता है। हर सेमेस्टर के सिलेबस का सिलसिलेवार ब्योरा इस प्रकार से होता है :

प्रथम सेमेस्टर

  1. बाल विकास एवं सीखने की प्रक्रिया
  2. शिक्षा अधिगम के सिद्धांत
  3. सामाजिक अध्ययन
  4. संस्कृत
  5. हिंदी
  6. गणित
  7. विज्ञान
  8. कंप्यूटर
  9. कला/संगीत/शारीरिक शिक्षा
  10. इंटर्नशिप

दूसरा सेमेस्टर

  1. वर्तमान भारतीय समाज एवं प्रारंभिक शिक्षा
  2. प्रारंभिक शिक्षा के नवीन प्रयास
  3. सामाजिक अध्ययन
  4. विज्ञान
  5. गणित
  6. हिंदी
  7. अंग्रेजी
  8. समाजोपयोगी उत्पादक कार्य
  9. कला/संगीत/शारीरिक शिक्षा
  10. इंटर्नशिप

तीसरा सेमेस्टर

  1. शैक्षिक मूल्यांकन
  2. क्रियात्मक शोध एवं नवाचार
  3. समावेशी शिक्षा
  4. विज्ञान शिक्षण
  5. गणित शिक्षण
  6. सामाजिक अध्ययन शिक्षण
  7. हिंदी शिक्षण
  8. संस्कृत शिक्षण
  9. उर्दू शिक्षण
  10. कंप्यूटर शिक्षण
  11. कला एवं संगीत शिक्षण
  12. शारीरिक शिक्षा एवं स्वास्थ्य शिक्षा
  13. इंटर्नशिप

चौथा सेमेस्टर (अंतिम)

  1. आरंभिक स्तर पर भाषा के पठन, लेखन एवं गणितीय क्षमता का विकास
  2. शैक्षिक प्रबंधन एवं प्रशासन
  3. विज्ञान शिक्षण
  4. गणित शिक्षण
  5. सामाजिक अध्ययन शिक्षण
  6. हिंदी शिक्षण
  7. अंग्रेजी शिक्षण
  8. शिक्षा एवं सतत विकास
  9. कला एवं संगीत शिक्षण
  10. शारीरिक शिक्षा एवं स्वास्थ्य शिक्षा
  11. इंटर्नशिप

हमने PRT full form से prt टीचर योग्यता , BTC / d.el.ed का syllabus जाना अब हम बीटीसी/डीएलएड के बाद की प्रक्रिया जानते है।

बीटीसी/डीएलएड के बाद क्या करना होता है?

बीटीसी/डीएलएड अभ्यास करने के बाद शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी TET/CTET जैसी competative exam पास करनी पड़ेगी।

यह सभी स्टेज आप अच्छे अंक और मेरिट मे आ जाते हो तो आपका चयन primary teacher मे किया जाएगा।

TET/CTET के लिए तैयारी कैसे करे?

  • सबसे पहले आपको करीब पांच साल पुराने पेपर लेकर सॉल्व करने होंगे और उनका analysis करके यह देखना होगा कि किस विषय से संबंधित कैसे प्रश्न पूछे गए हैं।
  • जैसा कि हम आपको बता चुके हैं कि इस परीक्षा में ज्यादातर questions एनसीईआरटी के सिलेबस से आते हैं तो इसके लिए आप एनसीईआरटी की किताबों को पढ़ें।
  • एनसीईआरटी की किताबों की pdf आपको इसकी वेबसाइट ncert.nic.in से हासिल हो सकती है।
  • सबसे अच्छी बात जो इस परीक्षा के साथ है वो ये कि इस परीक्षा में negative marking नहीं है। लिहाजा, आप जितना भी पेपर कवर करेंगे आपको फायदा होगा।
  • अपना time table तैयार करें। सबसे ज्यादा समय उस विषय को दें, जिसमें आपको तैयारी की जरूरत ज्यादा है।
  • लिखित में यानी रोज लिख लिखकर practice करेंगे तो आपको फायदा होगा, क्योंकि इससे आपको पेपर को निर्धारित समय यानी ढाई घंटे के अंदर समाप्त करने का अभ्यास हो जाएगा।

Primary Teacher को कितनी तनख्वाह मिलती है?

भारत मे प्राथमिक अध्यापक को अलग – अलग राज्यों मे इनके नियम एवं कानून के अनुसार भिन्न-भिन्न मिलती है। हम उत्तर प्रदेश की बात करें तो एक प्राइमरी शिक्षक का सैलरी Rs. 41,000 प्रति माह मिलती है जबकि गुजरात मे Rs. 19500 प्रति माह तनख्वाह मिलती है। यह प्रत्येक राज्य में निर्धारित वेतन के अनुसार अलग-अलग हो सकता है।

इसके सिवा PRT के वर्ल्ड वाइड अन्य फूल फॉर्म है, जिसे आप पढ़ सकते है…

PRT ka full formcategory
Pivotal Response TrainingMilitary
Positive Reinforcement TimeUnclassified
Personal Rapid TransitTransportation
Progressive Resistance TrainingUnclassified
Physical Readiness TestMilitary
Precomputed Radiance TransferChemistry
Peer Review TeamSoftware
Parr Terminal RailroadRailroads
Purge Resonance TechnologyElectronics
P-CAD ComponentFile Extensions
Palliative Response TeamCommunity
Planar Resistor TechnologyElectronics
Pattern Recognition ToolboxUnclassified
Pulse Ranging TechnologyTechnology
Pre Registration ToolGeneral
Provincial Reconstruction TeamConstruction
Pretty Ridiculous TechnologyTech
Panel Removal ToolGeneral
Partnership Resource TeamsMiscellaneous
Performance Ride TechnologyComputing
Peripatetic Remedial TeacherEducational
PermRock Royalty TrustGeneral

अंतिम शब्द

हमारी शुभकामना है की आप अच्छे से मेहनत करो और प्राथमिक अध्यापक बनके भारत के शिक्षा मे अपना योगदान दे।

इस पोस्ट मे हमने PRT full form क्या होता है? PRT teacher कैसे बने, प्राथमिक शिक्षक बनने की योग्यता, TET/CTET का सिलबस आदि समजा।

यह पोस्ट कैसी लगी और आपको PRT फूल फॉर्म के बारेमे पूछना है तो नीचे comment जरूर करे हम अवश्य उत्तर देंगे। इस पोस्ट को आप facebook, telegram, Whatsapp, instagram पर अवश्य share करे।

Leave a Comment