PGDCA ka full form kya hota hai? | PGDCA कोर्स क्या है?

21वी सदी मे भारत के हर युवा पढ़ाई में एक दूसरे से आगे निकलने की कोशिश कर रहा है ताकि उसको जल्दी से जल्दी एक सरकारी नौकरी या अच्छी नौकरी मिल जाए ताकि इसका future सिक्युर हो जाए।

भविष्य अच्छा गुजरे इसके लिए हार्डवर्क तो जरूरी है, इसके अलावा सही दिशा और गाइडन्स भी जरूरी है। ऐसा ही एक कोर्स करके आप अच्छी नौकरी पा सकते है ।

जिस कोर्स की बात कर रहे है इसका नाम है PGDCA। जी हा इस कोर्स करके कंप्युटर और नेटवर्किंग फील्ड मे बेहतरीन करियर बना सकते है।

लेकिन क्या आपको PGDCA ka full form क्या होता है?,PGDCA कोर्स के लिए क्या योग्यता जरूरी है?, PGDCA कोर्स कहा करे?,PGDCA का Syllabus क्या होता है? यदि नहीं पता तो हम इस आर्टिकल मे सबकुछ बताएंगे।

PGDCA ka full form

PGDCA ka full form “Post Graduate Diploma in Computer Application” होता है।

इस कोर्स को 10+2+3 पास करके यानी की graduation (स्नातक) करने के बाद कर सकते है।

PGDCA full form in Hindi

PGDCA का फुल फॉर्म हिन्दी मे “पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कंप्यूटर एप्लीकेशन में” होता है।

यदि आप स्नातक होने के बाद computer के क्षेत्र में एक अच्छी नौकरी की तलाश में है, तो PGDCA आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

PGDCA क्या है?

विश्व मे अब कंप्युटर का जमाना आ गया है और इसका उपयोग सभी जगह किया जाता है। PGDCA कोर्स कंप्युटर और नेटवर्किंग से रिलेटेड होता है।

PGDCA kya hai
PGDCA kya hai

इनमे आपको 1 साल मे Skills Development,information Technology, computer की languages, नेटवर्किंग, ऑपरेटिंग सिस्टम आदि सिखाया जाएगा। इस कोर्स को खत्म करने के बाद आप आसानी से IT फील्ड मे जॉब ले सकेंगे।

इसमे कोनसे विषय आते है इसे जानते है…

PGDCA के अभ्यासक्रम

जो भी छात्र PGDCA Certificate कोर्स करने के इच्छुक है वे एक बार पीजीडीसीए का सिलेबस देखना चाहिए। आमतौर पर सभी विश्वविद्यालय मे PGDCA सिलेबस समान होते है लेकिन कुछ मे अलग भी हो सकते है:

विषयों के नाम
Software Development
ICT Tools
Computer Organization & Architecture
C Programming
Operating Systems
Soft Skills Development
OOPS Using C++
Management Process & OB
Data Structure Using Java
Database Management Systems
Project work
Tally
MS office

PGDCA करने के लिया क्या योग्यता चाहिए?

qualification

Post Graduate Diploma in Computer Application(pgdca) 1 वर्ष का प्रोफेशनल कोर्स होता है। यह कोर्स हमारे देश मे एक साल का होता है। जिसे कोई भी छात्र मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन होने के बाद आसानी से कर सकता है।

PGDCA के बाद कौनसी नौकरी मिल सकती है?

इसके बाद करियर बनाने के लिए बहुत से रास्ते खुल जाएंगे और आप विभिन्न क्षेत्रों में जॉब मिलगी जिसे हमने नीचे लिस्ट मे बताया है:

  • कार्यालय सहायक / कम्प्यूटर ऑपरेटर
  • कंप्यूटर शिक्षक
  • एप्लिकेशन विशेषज्ञ
  • आवेदन समर्थन लीड
  • कम्प्यूटर सिस्टम सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • डेटाबेस व्यवस्थापक
  • कंप्यूटर एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • नेटवर्क सिस्टम और डाटा संचार विश्लेषक
  • डाटा एंट्री ऑपरेटर
  • इंटरनेट ऑपरेटर
  • मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपर
  • ऑफिस असिस्टेंट
  • बेसिक प्रोग्रामर
  • टीचर
  • अकाउंटेंट

PGDCA कौनसी यूनिवर्सिटी मे से कर सकते है?

PGDCA कोर्स हर यूनिवर्सिटी मे नहीं किया जा सकता इसके लिए कुछ चुनिंदा विश्वविद्यालय से कर सकते है जिसमे 6 माह के 2 सेमिस्टेर आते है। नीचे हमने टॉप इस कोर्स कराने वाली विश्वविद्यालयों की सूची दी है:

  • IGNU
  • Aisect
  • Jamia Millia Islamia
  • Sikkim Manipal University
  • Panjab National University
  • Deen Dayal Upadhyaya College
  • Makhanlal Chaturvedi University
  • University Of Delhi
  • Madurai Kamaraj University

इसके अलावा कई सारी विश्वविद्यालय मे यह कोर्स कराया जाता है।

PGDCA करके होने वाले लाभ (advantages)

PGDCA कोर्स करके आईटी फील्ड मे बहोत सारे लाभ मिलेंगे जैसे की…

advantages

PGDCA कोर्स करने के बाद उम्मीदवार को सबसे बड़ा लाभ यह है की इससे उम्मीदवार को सरकारी, प्राइवेट, बैंकिंग, इंश्योरेंस, स्टॉक मार्केट फील्ड मे आसानी जॉब लेकर बढ़िया स करियर बना सकता है।

विद्यार्थी को Computer की Basic से लेकर Advance Knowledge मिल जाता है।

स्किल डेवलप होने से छात्र सरकारी एजेंसी जैसे – ऑनलाइन सेंटर, सेवा केंद्र, सरकारी कचेरी मे कंप्युटर वर्क की नौकरी कर सकता है।

कंप्युटर के मास्टर होने के बाद आप अपना Computer Center, Coaching Class, training centre आदि शुरू कर सकते है।

PGDCA कोर्स की फीस कितनी होती है?

हमने भारत की बहोत सारी यूनिवर्सिटी के PGDCA कोर्स को अनालीसिस किया तो इसमे सभी की fees भिन्न-भिन्न है। जैसी जिसकी reputation। इसके हिसाब से होती है।

अंतिम शब्द

यदि आप कंप्युटर या आईटी क्षेत्र से ग्रैजूइट हो तो आपको PGDCA के बाद करियर बनाने का सुनहरा मौका मिलेगा। तो मै आशा रखता हु की आप इसे नहीं छोड़ेंगे।

इस पोस्ट मे हमने PGDCA ka full form क्या होता है?, इस कोर्स के फायदे, PGDCA कोर्स के लिए क्या योग्यता जरूरी है?, PGDCA कोर्स कहा करे?,PGDCA का Syllabus आदि समजा।

यह पोस्ट कैसी लगी और आपको PGDCA फूल फॉर्म के बारेमे पूछना है तो नीचे comment जरूर करे हम अवश्य उत्तर देंगे। इस पोस्ट को आप facebook, telegram, Whatsapp, instagram पर अवश्य share करे।

Leave a Comment